Banner Top
Log in
Super User

Super User

सेना को ऑपरेशन में बड़ी सफलता, जिंदा पकड़े तीन आतंकवादी

नगर: दक्षिण कश्मीर के कुलगाम जिला के जंगल काजीगुंड में वीरवार को ऑपरेशन के दौरान अब तक तीन आतंकवादी अरेस्ट किए गए हैं। पुलिस महानिरीक्षक मुनीर खान ने इस बारे में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि 14 नवंबर को यह ऑपरेशन शुरू हुआ था। पहले दिन एक आतंकवादी मार गिराया गया और इस ऑपरेशन में एक सैनिक भी शहीद हो गया।

भ्रष्टाचार नहीं रुका तो सोवियत संघ की तरह बिखर जाएगा चीन

बीजिंग, रायटर। चीन में भ्रष्टाचार के खिलाफ अभियान से जुड़े एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि यदि इस पर लगाम नहीं लगाया गया, तो इसका अंजाम भी सोवियत संघ जैसा हो सकता है। सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी के पोलित ब्यूरो के सदस्य यांग शिआओडू ने कहा है कि अगर भ्रष्टाचार के खिलाफ अभियान में विफलता मिलती है, तो यह देश के लिए बेहद घातक साबित होगा। चीन के सरकारी अखबार 'पीपुल्स डेली' में बुधवार को लिखे संपादकीय लेख में उन्होंने यह बात कही है।

 

शिआओडू को 'सेंट्रल कमीशन फॉर डिसिप्लिन इंस्पेक्शन' के डिप्टी सेक्रेटरी से पदोन्नत करके पोलित ब्यूरो का सदस्य बनाया गया है। उनको भ्रष्टाचार के खिलाफ अभियान में शामिल देश का दूसरे नंबर का शीर्ष अधिकारी माना जाता है। पोलित ब्यूरो के सदस्यों का देश की सत्ता में पूरा नियंत्रण होता है।

 

शिआओडू ने अपने लेख में पिछली सरकार की कड़ी आलोचना भी की है। उन्होंने कहा है कि पिछले शासनकाल में भ्रष्टाचार इस हद तक बढ़ गया था कि पार्टी का नेतृत्व कमजोर पड़ गया। इस दौरान निरीक्षण बेहद कमजोर रहा और विचारधारा बेपरवाह रही। उन्होंने कहा कि पिछली सरकार ने भ्रष्टाचार को बढ़ने दिया। इसके प्रति नरमी बरती गई और कार्रवाई करने में किसी ने दिलचस्पी नहीं दिखाई।

 

शिआओडू से पहले शनिवार को एंटी-करप्शन के नए प्रमुख झाओ लेजी ने चीनी अखबार पीपुल्स डेली के संपादकीय में भ्रष्टाचार को लेकर इसी तरह का लेख लिखा था। लेजी को वांग किशान की जगह एंटी-करप्शन का नया प्रमुख बनाया गया है।

 

बदल जाएगा देश का स्वरूप

 

लेख में शिआओडू ने कहा कि अगर चीन में भ्रष्टाचार को खत्म नहीं किया गया, तो देश का स्वरूप ही बदल जाएगा और यह बर्बाद हो जाएगा। उन्होंने कहा कि अगर समय रहते भ्रष्टाचार पर लगाम नहीं लगाया गया, तो भविष्य में देश के लोगों को सोवियत संघ की तरह तबाही देखने को मिलेगी। भ्रष्टाचार के चलते देश उसी तरह से ढह जाएगा। उल्लेखनीय है कि पिछली सदी के आखिरी दशक में सोवियत संघ का विघटन हो गया था।

 

सत्ता पर मजबूत पकड़ जरूरी

 

शिआओडू ने कहा कि चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग भी अपने पूर्ववर्तियों की तरह मानते हैं कि अगर सत्ता पर पकड़ ढीली हुई, तो देश में उथल-पुथल मच सकती है। इससे देश बिखर भी सकता है। यही वजह से चीन की सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी हमेशा अपने कैडर से सोवियत संघ के विघटन का अध्ययन करने को कहती है।

 

जारी रहेगी हमारी लड़ाई 

 

शिआओडू ने संकेत दिया कि राष्ट्रपति शी चिनफिंग के दाहिने हाथ माने जाने वाले वांग किशान के जाने के बाद भी भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई कमजोर नहीं होगी। पिछले महीने सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी में हुए बदलाव से पहले वांग को चीन का दूसरा सबसे शक्तिशाली नेता माना जाता था। उनको पिछले महीने ही एंटी-करप्शन के प्रमुख के पद से हटाया गया था। 

 

पार्टी के भ्रष्टाचार की सफाई जरूरी 

 

-शिआओडू ने यह भी कहा कि राष्ट्रपति शी ने भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई में काफी उपलब्धि पाई है।

 

-लेकिन, पार्टी के भीतर अब भी भ्रष्टाचार कायम है। इसकी सफाई अभी बाकी है।

 

-उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार के खिलाफ जारी यह लड़ाई काफी गंभीर और जटिल है।

 

-इसको लगातार आक्रामक कार्रवाई के जरिये ही खत्म किया जा सकता है।

 

यह भी पढ़ें: आसियान सम्मेलन में भारत से मात मिलने के बाद चीन को नेपाल से झटका

By Manish Negi

पाकिस्तान ने दोस्त चीन को दिखाया ठेंगा, ठुकरा दी खास पेशकश

इस्लामाबाद : पाकिस्तान ने अपने दोस्त चीन को ठेंगा दिखाते डेमर-भाषा डैम के लिए 14 अरब डॉलर की चीनी मदद की खास पेशकश को ठुकरा दिया है । पाक के इस कदम को चीन के महत्वकांशी प्रोजैक्ट OBOR के झटके के तौर पर देखा जा रहा है।  पाकिस्तान के एक प्रमुख अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक पाक ने चीन से कहा है कि वह 60 अरब डॉलर के CPEC प्रॉजैक्ट से इस डैम प्रॉजैक्ट को बाहर रखे। पाकिस्तान ने कहा है कि इस प्रोजैक्ट को हमें ही बनाने दें जो PoK में स्थित है । पाकिस्तान के एक प्रमुख अखबार ने अपनी रिपोर्ट में इस बात का दावा किया है।गौरतलब है कि इस क्षेत्र पर भारत अपना दावा करता ह। 

उल्लेखनीय है कि एशियन डिवैलपमैंट बैंक ने डैम प्रॉजेक्ट के लिए कर्ज देने से मना कर दिया था क्योंकि यह विवादित इलाके में बनाया जा रहा है।  एक शीर्ष अधिकारी के अनुसार चीन की कंपनियों द्वारा बेहद कड़ी शर्तों को मानने के बजाए पाकिस्तान को इस प्रोजैक्ट में खुद का पैसा लगाना अच्छा लग रहा है। पाकिस्तानी सूत्रों की मानें तो अंतर्राष्ट्रीय कर्जदाता इस प्रोजैक्ट की फंडिंग के लिए तमाम कड़ी शर्तें पाकिस्ता

कानून की किस किताब में लिखा है कि दिल्‍ली, भारत की राजधानी है: SC में केजरीवाल सरकार

नई दिल्‍ली: एलजी और आप सरकार की शक्तियों पर सुप्रीम कोर्ट में बहस के दौरान अरविंद केजरीवाल सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से पूछा कि क्‍या संविधान या संसद से पारित किसी कानून के द्वारा दिल्‍ली को भारत की राजधानी घोषित किया गया. दिल्‍ली सरकार की तरफ से पेश सीनियर वकील इंदिरा जयसिंह ने कहा कि दिल्‍ली को भारत की राजधानी घोषित करने के संबंध में इस तरह का कोई भी संदर्भ संविधान या किसी कानून के तहत नहीं मिलता.

मंगलवार को बहस के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने सवाल किया कि केंद्र और राज्य के बीच कार्यकारी शक्तियों के बंटवारे पर संवैधानिक योजना को क्या केंद्र शासित क्षेत्र दिल्ली पर भी लागू किया जा सकता है? क्‍या दिल्‍ली को भी अन्‍य राज्‍यों की तरह कार्यकारी शक्तियां मिल सकती हैं? प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली पांच न्यायाधीशों की संविधान पीठ ने वरिष्ठ अधिवक्ता इंदिरा जयसिंह की दलीलें सुनने के बाद यह सवाल किया. न्यायालय दिल्ली में शासन की सर्वोच्चता किसके पास होने संबंधी याचिकाओं पर सुनवाई कर रहा है.

एक जहाज के दो कप्‍तान 
आप सरकार की ओर से पेश वरिष्ठ अधिवक्ता इंदिरा जयसिंह ने कहा कि एक जहाज के दो कप्तान रहने पर अव्यवस्था होगी. पीठ ने कहा, ''केंद्र शासित क्षेत्र दिल्ली के मामले में ये प्रावधान किस तरह से लागू होंगे.'' संविधान पीठ के अन्य सदस्यों में न्यायमूर्ति एके सीकरी, न्यायमूर्ति एएम खानविलकर, न्यायमूर्ति धनन्जय वाई चंद्रचूड़ और न्यायमूर्ति अशोक भूषण भी शामिल हैं.

Subscribe to this RSS feed

17°C

New York

Partly Cloudy

Humidity: 54%

Wind: 9.66 km/h

  • 6 Jun 2014 26°C 16°C
  • 7 Jun 2014 28°C 19°C
Banner 468 x 60 px