Banner Top
Log in
राष्ट्रीय

राष्ट्रीय (2)

सऊदी अरब भी हुआ योग का दीवाना, दिया खेल का दर्जा

दुनिया भर में अपनी खूबियों का लोहा मनवा चुके योग का सऊदी अरब भी कायल हुआ है. सऊदी अरब के व्यापार एवं उद्योग मंत्रालय ने योग को खेल गतिविधियों के रूप में मान्यता दी. ऐसे में अब वहां कोई योग सिखाना या इसे बढ़ावा देना चाहे, तो लाइसेंस लेकर अपना काम शुरू कर सकता है.

सऊदी अरब में योग को मिले इस दर्जे के पीछे नउफ मरवई को श्रेय दिया जा रहा है. वह सऊदी अरब की पहली महिला योग प्रशिक्षक हैं. अरबी योगाचार्य के रूप में मशहूर नउफ ने वर्ष 2010 अरब योग फाउंडेशन की स्थापना की थी. उन्होंने जेद्दा में रियाद-चाइनीज मेडिकल सेंटर खोल रखा है, जहां आयुर्वेद और योग जैसे गैर-पारंपरिक तरीकों से मरीजों का उपचार करती हैं. उनका मानना है कि योग का धर्म से कोई लेना देना नहीं.

भाजपा विधायक ने कहा- बिहार के सिनेमाघरों में नहीं चलने देंगे फिल्म पद्मावती

पटना [जेएनएन]। संजय लीला भंसाली की फिल्म 'पद्मावती' की रिलीज़ डेट जितनी करीब आती जा रही है, उतना ही फिल्म को लेकर विरोध बढ़ता जा रहा है। कई राजपूत संगठन फिल्म पद्मावती में इतिहास से छेड़छाड़ की बात कर रहे हैं। बिहार के उद्योग मंत्री जयकुमार सिंह के बाद भाजपा विधायक ज्ञानेंद्र सिंह ज्ञानू भी इस विवाद में शामिल हो गये।

पटना जिले के बाढ़ से बीजेपी विधायक ज्ञानेंद्र सिंह ज्ञानू ने मंगलवार का कहा कि पद्मावती फिल्म को बिहार में रिलीज नहीं होने देंगे। पद्मावती फिल्म में अंडरवर्ल्ड डॉन दाउद इब्राहिम के पैसे लगे हैं। फिल्म के द्वारा हिंदू संस्कृति पर हमला किया गया है। इस फिल्म को बिहार के सिनेमाघरों में नहीं चलने दिया जाएगा।

वहीं, इससे पहले बिहार के उद्योग मंत्री जय कुमार सिंह ने कहा था कि रानी पद्मावती के इतिहास को फिल्म में अगर तोड़ मरोड़ कर दिखाया गया तो वे इसका विरोध करेंगे, क्योंकि रानी पद्मावती एक आदर्श के रूप में इतिहास में स्थापित हैं। वे जाति व धर्म से ऊपर  हैं। उनके इतिहास को गलत ढंग से दिखाना जन भावनाओं के साथ खिलवाड़ होगा। फिल्म देखने के बाद ही कोई निर्णय लिया जाएगा।

बता दें कि फिल्म पद्मावती को पूरे देश में विरोध प्रदर्शन हो रहा है। विरोध करने वाले लोगों का कहना है कि फिल्म में रानी पद्मावती को कई जगहों पर नाचते हुए दिखाया गया है जो कि गलत है। इस प्रकार रानी पद्मावती को नीचा दिखाया गया है और इतिहास से छेड़छाड़ की गई है।

रानी पद्मावती हम राजपूतो के लिए त्याग, तपस्या, बलिदान की प्रेरणस्त्रोत है, जो कि पूज्यनीय है। फिल्म पद्मावती से हमारी आस्था को गहरी ठेस पहुंची है।

वहीं, कुछ लोगों का कहना है कि अल्लाउद्दीन खिलजी को फिल्म में महान बताया गया है जो कि पूरी तरह से गलत है।

हालांकि, पद्मावती का विरोध होने के बाद डायरेक्टर संजय लीला भंसाली ने कहा था कि इस फिल्म में ऐसा कुछ नहीं है, जिसे लेकर विरोध किया जा रहा है। इसके बाद फिल्म में पद्मावती का किरदार निभा रही दीपिका पादुकोण ने इन्फॉर्मेशन एंड ब्रॉडकास्टिंग मिनिस्टर स्मृति ईरानी को टैग करते हुए ट्वीट किया था कि इस तरह की घटनाओं पर एक्शन लिया जाना चाहिए।

आपको बता दें कि, फिल्म पद्मावती 1 दिसंबर को सिनेमाघरों में दस्तक देने वाली है। इसमें दीपिका पादुकोण, रणवीर सिंह और शाहिद कपूर अहम भूमिका में हैं।

Subscribe to this RSS feed

17°C

New York

Partly Cloudy

Humidity: 54%

Wind: 9.66 km/h

  • 6 Jun 2014 26°C 16°C
  • 7 Jun 2014 28°C 19°C
Banner 468 x 60 px